WhatsApp Group Telegram Group

Current Topic 19 – 05 – 2021

Current Topic 19 – 05 – 2021

★ Reliance Jio बना रही है समुद्र में दुनिया का सबसे बड़ा केबल सिस्टम

√ 17 मई, 2021 को देश की प्रमुख दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी रिलायंस जियो ने भारत के आस-पास सबसे बड़ा अंतरराष्ट्रीय सब्मरिन केबल सिस्टम के निर्माण करने की घोषणा की है ।

√ जियो इस अंतरराष्ट्रीय सबमरीन केबल सिस्टम को लगाने के लिए मुख्य वैश्विक पार्टनर्स और सबमरीन केबल सप्लायर कंपनी ‘सबकॉम’ के साथ समझौता कर रही है ।

√ इस अंतर्राष्ट्रीय सबमरीन केबल दो सबमरीन केबल डालने की योजना है ।

√ इसमें एक प्रणाली भारत को सिंगापुर, थाईलैंड और मलेशिया तथा दूसरी इटली और पश्चिम एशिया तथा उत्तरी अफ्रीका क्षेत्रों के रास्ते एशिया प्रशांत बाजारों से जोड़ेगी ।

◆ सबमरीन केबल सिस्टम

√ दुनिया के देशों को आपस में इंटरनेट और वर्ल्ड वाइड वेब से जोड़ने के लिए मोटे केबल्स का एक नेटवर्क तैयार किया गया है, जो समुद्र के अंदर बिछाए गए हैं ।

√ महाद्वीपों और बड़े देशों के बीच इनकी मदद से डाटा ट्रांसफर होता है ।

◆ तैयार करेगी दो बड़े केबल सिस्टम

√ रिलायंस जियो जिन दो सबमरीन केबल सिस्टम्स पर काम कर रही है, उनमें इंडिया- एशिया-एक्सप्रेस और इंडिया-यूरोप-एक्सप्रेस शामिल है ।

√ पहला इंडिया-एशिया-एक्सप्रेस सिस्टम भारत के पूर्वी हिस्से को सिंगापुर और उसके आगे के देशों से जोड़ेगा ।

√ वहीं, दूसरा इंडिया-यूरोप-एक्सप्रेस सिस्टम भारत के पश्चिमी हिस्से को मिडिल ईस्ट और यूरोप से जोड़ने का काम करेगा ।

√ ये सिस्टम इंटरकनेक्ट होने के अलावा ग्लोबल सर्विस एक्सटेंशन के लिए दुनिया के टॉप इंटरएक्सचेंज पॉइंट्स और कंटेंट हब्स से कनेक्ट हो जाएंगे ।

√ IAX के वर्ष 2023 के मध्य तक सेवा के लिए तैयार होने की उम्मीद है, जबकि IEX वर्ष 2024 की शुरुआत में सेवा के लिए तैयार होगा ।

√ दोनों IAX ओर IEX से भारत में और बाहर क्लाउड सर्विसेज और कंटेंट एक्सेस करने के लिए कंज्यूमर और एंटरप्राइज यूजर्स की क्षमता बढ़ेगी ।

√ ये ज्यादा क्षमता वाले और हाई स्पीड सिस्टम्स 200Tbps से ज्यादा की कैपेसिटी उपलब्ध करेंगे, जो करीब 16 हजार किलोमीटर की दूरी में होगी ।

◆ पहली बार सिस्टम्स के केंद्र में होगा भारत

√ रिलायंस जियो ने कहा कि IAX और IEX के साथ कंज्यूमर और एंटरप्राइज यूजर्स के लिए भारत में और भारत से बाहर कंटेंट और क्लाउड सर्विसेज एक्सेस करना आसान हो जाएगा ।

√ कंपनी ने बताया, फाइबर ऑप्टिक सबमरीन टेलीकम्युनिकेशंस के इतिहास में पहली बार भारत इन सिस्टम्स से जुड़े इंटरनेशनल नेटवर्क मैप के केंद्र में होगा ।

√ वर्ष 2016 में जियो की सेवाएं लॉन्च होने के बाद से भारत में डाटा के इस्तेमाल का तरीका बदला है और इसका महत्व बढ़ा है ।

√ फाइबर ऑप्टिक्स के जनक प्रो.नरिंदर सिंह कपानी दिसंबर, 2020 को पंजाब के मोगा में जन्मे फाइबर ऑप्टिक्स के जनक प्रो. नरिंदर सिंह कपानी का अमेरिका में निधन हो गया ।

√ उन्होंने 1954 में फाइबर ऑप्टिक्स तकनीकी का विकास कर पूरी दुनिया में नया आयाम गढ़ दिया ।